विद्यार्थियों को मिल सकती है राहत जुलाई में नही होगी परीक्षा

TIM


कोरोना के देशभर में बढ़ते संक्रमण और जुलाई में इसके चरम पर पहुंचने को लेकर लगाए जा रहे अनुमानों को देखते हुए फिलहाल जुलाई में अब कोई भी परीक्षा नहीं होगी। सीबीएसई की बाकी बची परीक्षाओं को रद करने के एलान के बाद मंत्रालय ने जुलाई में प्रस्तावित अन्य परीक्षाओं को लेकर भी ऐसे ही संकेत दिए हैं । साथ ही इसे लेकर नए सिरे से समीक्षा शुरू कर दी है। इस बीच सोमवार को जुलाई में प्रस्तावित परीक्षाओं को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक भी बुलाई गई है, जिसमें इन्हें टालने या रद करने को लेकर निर्णय किया जाएगा। फिलहाल जुलाई में प्रस्तावित जिन परीक्षाओं को रद या स्थगित किया जा सकता है,उनमें विश्वविद्यालयों की अंतिम वर्ष की परीक्षाओं के साथ नीट,जेईई मेंस आदि परीक्षाएं शामिल हैं। इनमें विश्वविद्यालयों की अंतिम वर्ष की परीक्षाओं के फिलहाल रद करने की पूरी संभावना है। इन छात्रों को पिछले सेमेस्टर की परीक्षाओं और आंतरिक आकलन के आधार पर अंक देकर प्रमोट किया जा सकता है। मंत्रालय ने स्थिति को गंभीरता को देखते हुए पिछले दिनों ही की गंभीरता को देखते हुए पिछले दिनों ही विश्वविद्यालय अनुदन आयोग (यूजीसी) से विश्वविद्यालयों को लेकर घोषित अपने परीक्षा प्लान और शैक्षणिक कैलेंडर की नए सिरे से समीक्षा करने के निर्देश दे दिए थे जिसे लेकर यूजीसी ने भी एक कमेटी गठित की है जो इसे लेकर सुझाव देगी। फिलहाल यूजीसी के मौजूदा प्लान के तहत विश्वविद्यालयों के अंतिम वर्ष की परीक्षाएं एक से पंद्रह जुलाई के बीच प्रस्तावित हैं। नया शैक्षणिक सत्र भी सितंबर से शुरू होना है। सूत्रों की मानें तो विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं अब नहीं होंगी। साथ ही शैक्षणिक सत्र भी अब अक्टूबर तक खिसकेगा जिसका एलान भी सोमवार को हो सकता है।विश्वविद्यालयों के पहले और दूसरे वर्ष के छात्रों को पहले ही आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर प्रमोट करने का विकल्प दिया जा चुका है।


Credit :- Marwar News
Marwar News will be responsible for the debate. We are not responsible.

Post a Comment

any problem,let me know us.

أحدث أقدم